banner
banner
banner
banner
Kartarpur Corridor

Kartarpur Corridor: समझौते पर भारत-पाक का हस्ताक्षर, अब बगैर वीजा जा सकेंगे करतारपुर

111
banner

Kartarpur Corridor :भारत-पाकिस्‍तान ने Kartarpur Corridor समझौते पर गुरुवार को हस्‍ताक्षर कर दिया। इसके लिए पाकिस्‍तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता मोहम्‍मद फैसल के नेतृत्‍व में पाकिस्‍तान का प्रतिनिधिमंडल करतारपुर जीरो लाइन पर मौजूद था। India की ओर से विदेश्‍ा मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव HCL Das ने इस कॉरिडोर से संबंधित तमाम जानकारियों को साझा किया।

– हस्‍ताक्षर के बाद विदेश मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव HCL Das ने कहा, ‘हमारी ओर से हाइवे व पैसेंजर टर्मिनल बिल्डिंग समेत तमाम आवश्‍यक बुनियादी ढांचों का निर्माण कार्य पूरा होने के करीब है ताकि समय से Corridor का काम पूरा हो सके। उन्‍होंने कहा श्रद्धालुओं के रजिस्‍ट्रेशन के लिए ऑनलाइन पोर्टल आज से लाइव हो जाएगा। यह पोर्टल है- http://prakashpurb550.mha.gov.in।’

– उन्‍होंने कहा, ‘सुबह से शाम तक यह Corridor खुला रहेगा। सुबह जाने वाले श्रद्धालुओं को उसी दिन शाम को लौटना होगा। पूरे साल कॉरिडोर खुला रहेगा और यदि किसी कारण इसे बंद किया जाएगा तो इसकी सूचना Advance में दे दी जाएगी।

Kartarpur Corridor

Kartarpur Corridor

– उन्‍होंने बताया, ‘ सभी समुदाय के भारतीय श्रद्धालु Kartarpur Corridor का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इस यात्रा के लिए वीजा फ्री होगा। श्रद्धालुओं को केवल अपना वैध पासपोर्ट ले जाना होगा।’

इसकी जानकारी पहले ही Mohammad Faisal ने ट्वीट कर दे दी थी। उन्‍होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘कॉरिडोर को खोलने के लिए भारत पाक के बीच ऐतिहासिक समझौते पर हस्‍ताक्षर के लिए हम Kartarpur Sahib जा रहे हैं। 9 नवंबर को इंशा अल्‍लाह प्रधानमंत्री खान नारोवाल में करतारपुर साहिब कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे।’इस बात की जानकारी पाकिस्‍तान विदेश मंत्रालय ने आज दी है। संभव है कि इस कॉरिडोर का उद्घाटन अगले माह सिख धर्म के संस्‍थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर हो जाए।

समझौते को किया जाएगा सार्वजनिक

Kartarpur Corridor

Kartarpur Corridor

डॉन न्‍यूज ने विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता Mohammad Faisal के हवाले से बताया है कि उन्‍होंने साप्‍ताहिक मीडिया ब्रीफिंग में इस बात की पुष्टि की है। हस्‍ताक्षर के बाद एक-एक विवरण को साझा किया जाएगा। इस बीच New Delhi ने भी निराशा जताई है क्‍योंकि पाकिस्‍तान ने भारत से करतारपुर गुरुद्वारा आने वाले प्रत्‍येक श्रद्धालु पर 20 डॉलर का सर्विस शुल्‍क लगाने की पेशकश की। बता दें कि यहां Guru Nanak Dev ने अपनी जिंदगी के आखिरी 18 साल बिताए थे।

4.2 किमी लंबा है कॉरिडोर

पंजाब के गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक देव क्षेत्र में भारत की ओर 4.2 किमी लंबे कॉरिडोर का काम Guru Nanak Dev की 550वीं जयंती से एक सप्‍ताह पहले 31 अक्‍टूबर को पूरा हो जाएगा। इसका उद्घाटन भारत और पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व इमरान खान 9 नवंबर को करेंगे। प्रतिदिन 5,000 भारतीय श्रद्धालु यहां आते हैं। यदि यह Corridor शुरू हो जाता है तब पाकिस्‍तान को प्रतिदिन प्रति श्रद्धालु 20 डॉलर की कमाई होगी।

पाकिस्‍तान के पंजाब प्रांत स्थित नारोवाल जिले में करतारपुर साहिब गुरुद्वारा डेरा बाबा नानक के निकट सीमा से 4.5 किमी की दूरी पर स्थित है।

Check Latest Post Sensex और निफ्टी लाल निशान में, Infosys के शेयर 13% टूटे

Comments

0 comments

· · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · · ·

Related Articles & Comments

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *